Hindi Practice Set 04 For CTET

Hindi Practice Set For CTET

  1. प्राथमिक स्तर पर बच्चों की भाषा का आकलन करने का उद्देश्य है।

  1. उसकी पठन क्षमता का आकलन ।

  2. उसके भाषा-प्रयोग की क्षमता का आकलन।

  3. उसकी लेखन क्षमता का आकलन।

  4. उसकी बोलने की कुशलता का आकलन।

  1. इनमें से कौन सा भाषा आकलन में  सबसे कम प्रभावी तरीका है।

  1. कहानी कहना।

  2. कहानी लिखना।

  3. घटना वर्णन।

  4. श्रुतलेख।

  1. आकलन की प्रक्रिया में केवल बच्चों की क्षमताओं का आकलन नहीं होता बल्कि शिक्षक की शिक्षण प्रक्रिया का भी आकलन होता है। यह विचार-

  1. पूर्णतः सही है।

  2. अंशतः सही है ।

  3. पूर्णतः गलत है।

  4. निराधार है।

  1. रीमा ने तीसरी कक्षा में पढ़ने वाली ऋतिका की भाषा-क्षमता, भाषा निष्पादन संबंधी क्रमिक प्रगति का ब्यौरा उसके अभिभावको को दिया। रीमा ने ————–के आधार पर यह जानकारी दी।

  1. अनलोकन

  2. पोर्टफोलियो

  3. जाँच सूची

  4. लिखित परीक्षा

  1. पहली कक्षा में ———–भी लिखना के अंतर्गत आता है।

  1. वाक्य लिखना

  2. शब्द लिखना

  3. अक्षऱ बनाना

  4. चित्र बनाना

  1. प्राथमिक स्तर पर पढ़ना सीखने में सबसे कम महत्वपूर्ण है।

  1. अनुमान लगाना

  2. संदर्भनुसार अर्थ

  3. अक्षरों की पहचान

  4. पढ़ने का उद्देश्य

  1. भाषा अर्जन क्षमता किसके साथ सम्बंधित है।

  1. पियाजे

  2. चॉमस्की

  3. स्किनर

  4. ब्रूनर

  1. प्राथमिक स्तर पर भाषा सीखने में संबंधी कौन  सा संसाधन सर्वाधिक महत्वपूर्ण है।

  1. कम्प्यूटर

  2. बाल साहित्य

  3. समाचार-पत्र

  4. टेलीविजन

  1. बच्चे अपनी मातृभाषा का प्रयोग करते हुए हिंदी भाषा की कक्षा में अपनी बात कहते हैं। यह बात———-है।

  1. स्वाभाविक

  2. निंदनीय

  3. विचारणीय़

  4. अनुचित

  1. बहु-भाषिकता हमारी पहचान भी है और हमारी ——–व—–का अभिन्न अंग भी।

  1. सभ्यता, संस्कृति

  2. सभ्यता, साहित्य

  3. संस्कृति साहित्य

  4. संस्कृति चुनौतियों

Rate this post