बाल विकास एवम सीखने की प्रक्रिया (CDP) के Important Objectives Part-15

बाल विकास एवम सीखने की प्रक्रिया (CDP) के महत्वपूर्ण बहुविकल्पीय  प्रश्न

In this post Examsaga provides CDP objective questions series for ctet, uptet, htet, btet, kvs, and others tet.

psychology-gk-question-hindi


Psychology gk question in Hindi


1. निम्नलिखित कथनों में से कौन-सा बुद्धि के बारे में सही है।

(1.) बुद्धि एक निश्चित योग्यता है जो जन्म के समय ही निर्धारित है होती है.
(2.) बुद्धि को मानकीकृत परीक्षणों के प्रयोग से सटीक रुप से मापा एंव निर्धारित किया जा सकता है।
(3.) बुद्धि एक एकात्मक कारक तथा एक एकाकी विशेषक है।
(4.) बुद्धि बहु-आयामी है तथा जटिल योग्यताओं का एक समूह है।

2. रूही हमेशा समस्या के एकाधिक समाधानों के बारे में सोचती है इनमें से काफी समाधान मौलिक होतें हैं रूही किन गुणों का प्रदर्शन कर रही है
(1.) सृजनात्मक विचारक
(2.) अभिसारिक विचारक
(3.) अनम्य विचारक
(4.) आत्म-केन्द्रित विचारक

3. शिक्षण-अधिगम प्रक्रिया में, वंचित समूह से संबधित विद्यार्थियों के द्वारा सहभागिता कम होने की स्थित में एक शिक्षक को क्या करना चाहिए।
(1.) बच्चों को विद्यालय छोड़ने के लिए कहना चाहिए।
(2.) इस स्थित को जैसी है स्वीकार कर लेना चाहिए।
(3.) इन विद्यार्थियों से अपनी अपेक्षाओं को कम करना चाहिए।
(4.) अपनी शिक्षण पद्धति पर विचार करना चाहिए तथा बच्चों की सहभागिता मे सुधार करने के लिए नए तरीके ढूँढ़ने चाहिए।

4. एक समावेशी कक्षा में, एक शिक्षक को विशिष्ट शैक्षिक योजनाओं को।
(1.) तैयार नहीं करना चाहिए।
(2.) कभी-कभी तैयार करना चाहिए।
(3.) सक्रिय रूप से तैयार करना चाहिए।
(4.) तैयार करने के लिए हतोत्साहित होना चाहिए।

5. पठनवैफल्य बच्चों के प्राथमिक लक्षण क्या है।
(1.) न्यून-अवधान विकार।
(2.) अपसारी चिंतन पढ़ने में धाराप्रवाहिता।
(3.) धाराप्रवाह पढ़ने की अक्षमता।
(4.) एक ही गतिविषयक कार्य को बार-बार दोहराना।

6. शिक्षा का अधिकार अधिनियम, 2009 में उल्लेख की गई समावेशी शिक्षा की अवधारणा निम्नलिखित में किस पर आधारित है।
(1.) व्यवहारवादी सिद्धान्त 
(2.) अशक्त बच्चों के प्रति एक सहानुभूतिक अभिवृत्तत।
(3.) अधिकार – आधारित मानवतावादी परिपेक्ष्य।
(4.) मुख्यतः व्यावसयिक शिक्षा उपलब्ध करा करके अशक्त बच्चों को मुख्यधारा में शामिल करना।

7. संरचनावादी ढाँचें में, अधिगम प्राथमिक रूप से।
(1.) यंत्रवत् याद करने पर आधारित है।
(2.) प्रबलन पर केंद्रित है।
(3.) अनुबंधन द्वारा अर्जित है।
(4.) अवबोधन की प्रक्रिया पर केन्द्रित है।

8. अनेक घटनाओं के बारे में बच्चों के द्वारा बनाएं गए सहजानुभूत सिद्धान्तों के संदर्भ में एक शिक्षिका को क्या करना चाहिए।
(1.) बच्चों के इन सिद्धान्तों को अनदेखा करना चाहिए।
(2.) बच्चों को दंड़ित करना चाहिए।
(3.) बार-बार याद करने के द्वारा एक सही सिद्धान्त से बदल देना चाहिए।
(4.) प्रतिकूल प्रमाण एंव उदाहरणों को प्रस्तुत करके बच्चों के इन सिद्धान्तों को चुनौती देनी चाहिए।

9. छात्र केंद्रित शिक्षाशास्त्र की क्या विशेषता है।
(1) केवल पाठ्यपुस्कों पर निर्भर होना।
(2) बच्चों के अनुभवों को प्रमुखता देना।
(3) यंत्रवत् करना
(4) योग्यता के आधार पर विद्यार्थियों को नांमाकिंत करना तथा वर्गीकरण करना।

10 संवेग एंव संज्ञान एक दूसरे से ———- हैं।
(1.) पूर्णतया अलग
(2.) स्वतंत्र 
(3.) सन्निहित
(4.) संबंधित नहीं।

Also Read-
CDP Important Objectives Part-16
CDP Important Objectives Part-14

TELEGRAM LINK:-

👉Join Here – PDF Other Study Material पाने के लिये अब आप हमारे Telegram Channel को Join कर सकते हैं |👈

Rate this post