Maths Pedagogy Important MCQ Part 1

Maths  Pedagogy Important MCQ Part 1

केंद्रीय अध्यापक पात्रता परीक्षा (CTET) के MATH में PEDAGOGY के 10 प्रश्न आते है जो कि स्कोरिंग होते है अगर थोड़ी सी प्रैक्टिस की जाए।EXAMSAGA ने एक सीरीज शुरू की है जिसमे IMPORTANT और पिछले साल के बहुविकल्पीय प्रश्न इस वेबसाइट पर अपलोड होंगे जो आप के लिए लाभदायक  होंगे।


1.जियो बोर्ड (Geo-board) किसके शिक्षण का एक प्रभावी साधन है?

(A) ज्यामितीय आकृतियाँ और उनकी विशेषताएँ

(B) द्रीविम और त्रिविमआकृतियों में अन्तर करना

(C) सममित की अवधारणाएँ

(D) आधारभूत ज्यामितीय अवधारणाओं जैसे किरणें रेखाएँ और कोण।

 2. प्राथमिक कक्षा का एक बच्चा संख्या, सेंक्रिया चिन्हों, सिक्कों एंव घड़ी की सुइयों में अन्तर स्थापित नहीं कर पाता है। यह तथ्य इंगित करता है कि इस बच्चे को निम्नलिखित में से किस प्रक्षेत्र में समस्या हैं?

(A) प्रक्रिया स्मृति

(B) दृश्य प्रक्रमण

(C) भाषा प्रक्रमण

(D) श्रवण स्मृति

3. प्राथमिक स्तर पर टेनग्राम, बिन्दु के खेल, प्रतिरुप, इत्यादि का प्रयोग विद्यार्थियों की सहायता करते हैं?

(A) मूलभूत संक्रियाओं को समझने में।
(B) स्थानिक समझ की योग्यता में वृद्धि के लिए।
(C) परिकलन कौशलों के संवर्द्धन में।
(d) संख्याओं की तुलना का  बोध विकसित करने में।


4.    निम्नलिखित में से कौनसा प्राथमिक स्तर पर गणित शिक्षण की पाठ्यचर्या अपेक्षाओं के साथ मेल नहीं खाता हैं?

 (a) भिन्न को पूर्ण के अंश के रुप में प्रदर्शित करना तथा सरल भिन्नों को व्यवस्थित करना

(b) वर्गीकृत आँकड़ों के निरुपण का विश्लेषण करना तथा निष्कर्ष निकालना

(c) दैनिक जीवन की तार्किक कार्यप्रणाली तथा गणितीय सोच के बीच संयोजन का विकास

(d) मानक परिकलन प्रणाली से संख्यासम्बन्धी संक्रियाओं के करने में भाषा और प्रतीक चिन्हों का विकास।



5.    गणित की शिक्षा का मुख्य ध्येय है?

(a) ज्यामिति के प्रमेयों और उनके प्रमाणों का स्वतंत्र रुप से सृजन करना।

(b) विद्यार्थियों को गणित समझने में सहायता करना।

(c) उपयोगी क्षमताओं को विकसित करना।

(d) बच्चों की गणितीय प्रतिभाओं का विकास करना।





6.    एक शिक्षिका कक्षा 5 की शैलजा से एक आकृति के परिमाप के बारे में पूछती है।वह शैलजा से उसके हल को अपने शब्दों में बताने को भी कहती है। शैलजा समस्या का सही हल करने में सक्षम थी परन्तु उसकी व्याख्या करने में सक्षम नहीं थी यह शैलजा की निम्न विशेषता प्रदर्शित करता हैः

(a) कम आत्मविश्लास स्तर तथा कम गणितीय कौशल

(b) परिमाप के संप्रत्यय की कम समझ परन्तु अच्छी मौखिक योग्यता

(c) निम्न स्तरीय भाषा प्रवीणता औऱ निम्न स्तरीय गणितीय प्रवीणता

(d) निम्न स्तरीय भाषा प्रवीणता और उच्च स्तरीय गणितीय प्रवीणता।



7.    आंकाक्षा गणित की एक अच्छी अध्यापिका बनना चाहती है। गणित की अच्छी अध्यापिका के लिए आवश्यक है कि उनके पास


(a) अच्छा सम्प्रेषण कौशल तथा बंदअंत वाले प्रश्नों का अच्छा ज्ञान होना चाहिए।

(b)गणितीय विषयवस्तु को वास्तविक जीवन से जोड़ने के लिए अवधारणात्मक ज्ञान, समझ और योग्यता होने चाहिए।

(c) संख्या पद्धति, बीजगणित तथा ज्यामिति का अच्छा ज्ञान होना चाहिए।

(d) बिना समय लगाए समस्यों/सवालों को हल करने की योग्यता होनी चाहिए।


8. कक्षा में गणितीय मनोरंजनात्मक क्रियाकलाप तथा चुनौतीपूर्ण ज्यामितीय पहेलियाँ सम्बन्धी क्रियाकलाप महत्वपूर्ण हैं क्योंकि


(a) वे गणित में कम सफल शिक्षार्थियों तथा मंद गति से सीखने वाले शिक्षार्थियों में रुचि उत्पन्न करने में सहायक होते हैं।

(b) वे विद्यार्थियों को उनकी गणित कक्षा की एकरुपता तथा दैनिकचर्या के कारण होने वाली ऊब से बाहर लाते हैं।

(c) वे प्रतिभाशाली शिक्षार्थियों को उचित अवसर प्रदान करते हैं।

(d) वे प्रत्येक शिक्षार्थी की स्थानिक विश्लेषणात्मक योग्यता के संवर्द्धन में सहायक हैं।



9. राष्ट्रीय पाठचर्या रुपरेखा 2005 के अनुसार, विद्यालया में गणित शिक्षण का संकीर्ण उद्देश्य है?


(a) रैखिक बीजगणित से सम्बन्धित दैनिक जीवन की समस्याओं की शिक्षा।

(b) संख्यात्मक कौशलों का विकास।

(c) बीजगणित पढ़ना।

(d) परिकलन मापन पढ़ाना।


10.आकृतियों की इकाई से अध्यापक, विद्यार्थियों से आकृतियों के उपयोग की सहायता से किसी भी चित्र की रचना करने के लिए कहता है। इस क्रियाकलाप से निम्नलिखित में से कौनसा उद्देश्य प्राप्त किया जा सकता है

(a) अनुप्रयोग

(b) ज्ञान

(c) समझ/बोध

(d) रचना/सृजन



ANS: 1-A 2- B 3- B 4-B 5- D 6- D 7- B 8- D 9- B 10-D

Rate this post